EMI की फुल फॉर्म क्या होती है? और इसे कैलकुलेट कैसे करें?

EMI की फुल फॉर्म क्या होती है? और इसे कैलकुलेट कैसे करें?

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं? आप लोग आज के इस नए आर्टिकल मैं आपका तहे दिल से स्वागत है। दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको EMI की फुल फॉर्म एवं इसके बारे में संपूर्ण जानकारी आपको इस पोस्ट के माध्यम से स्टेप बाई स्टेप रूप से देने जा रहे हैं। दोस्तों आप से गुजारिश है कि अगर आप लोग भी एमआई के बारे में सब कुछ जानकारी विस्तार पूर्वक रूप से अपने हाथों में लेना चाहते हैं। तो इस पोस्ट को शुरू से लेकर एंड तक ध्यान पूर्वक पढ़ते रहें दोस्तों अगर आप लोग इस पोस्ट में शुरू से लेकर एंड तक बने रहेंगे तो आप लोग EMI के बारे में सब कुछ विस्तार पूर्वक समझ पाएंगे और फिर आपको EMI के बारे में ज्यादा रिसर्च करने की कोई भी जरूरत नहीं पड़ेगी तो चलिए शुरू करते हैं।

EMI का मतलब क्या है?

दोस्तों एमआई का अर्थ इक्वेटेड मंथली इंस्टॉलमेंट ( equated monthly installment) होता है। और दोस्तों हिंदी में हम इसे मासिक किस्त के नाम से जानते हैं। हालांकि दोस्तों हिंदी और इंग्लिश में पढ़ने के बाद हमें ईएमआई का अर्थ काफी अच्छे तरीके से समझाया जाता है. दोस्तों आज किस टाइम पर चाहे इलेक्ट्रॉनिक सामान हो या फिर घर एवं प्लॉट हो और खेत हो चाहे कुछ भी हो इंसान हर एक चीज को खरीदने की चाह रखता है।दोस्तों वैसे एमआई मिडल क्लास फैमिली वालों के लिए काफी ज्यादा यूज़फुल रहता है। क्योंकि साथियों ईएमआई एक ऐसी चीज होती है। जहां पर आप को सारा पैसा एक साथ में नहीं भरना पड़ता है। जो कोई चीज आप धीरे-धीरे मंथली इंस्टॉलमेंट के हिसाब से खरीदोगे तो आपको उसका पैसा भरना पड़ता है। और इसलिए आज की इस पोस्ट के अंदर हम आपको ईएमआई के बारे में पूरी इंफॉर्मेशन देने वाले हैं। इसलिए पोस्ट को आगे तक जरूर पढ़ें।

EMI को कैसे लिया जाता है?

दोस्तों चाहे कोई भी चीज हो उसकी EMI रेट अलग-अलग प्रकार का होता है। दोस्तों अगर आप इस स्मार्टफोन परचेज करना चाहते हैं। तो आप उसे ईएमआई के द्वारा ले सकते हैं। दोस्तों आपको उसके लिए किसी भी बैंक या फिर बजाज एजेंसी बड़ी-बड़ी कंपनियों के सामान को उनके द्वारा दिए जाने वाले कार्ड पर ही लेना पड़ता है। कंपनियां लोन भी देती हैं। आप उस पर भी ईएमआई प्राप्त कर सकते हो दोस्तों ईएमआई को लेने से पहले चाहे कोई भी चीज हो जैसे कि बाइक एवं कार तो उसका कुछ थोड़ा सा डाउन पेमेंट आपको पहले देना पड़ता है। मान लीजिए कि आप लोग एक मोबाइल को खरीद रहे हैं। और वह मोबाइल 20000 यहां पर ₹10000 का है।

दोस्तों डाउन पेमेंट आपको जैसे कि 2000 या फिर 5000 यानी कि कंपनी या फिर दुकान के हिसाब से आपको देना होता है। हालांकि दोस्तों आज किस टाइम पर जीरो डाउन पेमेंट पर भी एमआई को दे दिया जाता है। और जैसा कि मैं आपको शुरू में ही बता चुका हूं कि ईएमआई की सुविधाएं मिडल क्लास फैमिली वालों के लिए काफी अच्छी एवं सुविधाजनक मानी गई है। क्योंकि दोस्तों मिडल क्लास फैमिली वालों का भी एक सपना होता है। कि वह अपने लिए एक कार या फिर बाइक खरीदें तो ऐसे में वह इकट्ठा पैसा नहीं कर पाते हैं। तो इसलिए वह ईएमआई पर इन सभी चीजों को खरीद सकते हैं।

साथियों आज किस टाइम पर काफी सारे लोग एमआई के द्वारा बहुत चीजें लेते हैं। चाहे वह ऑनलाइन या ऑफलाइन हो फ्लिपकार्ट एवं ऐमेज़ॉन और मिंत्रा और भी इनके अलावा ऐसी कई बड़ी-बड़ी ई-कॉमर्स वेबसाइट हैं। जो कि EMI की सुविधा भी लोगों को देती हैं। इसी के साथ वह अच्छे-अच्छे ऑफर भी लोगों को देती रहती हैं। साथियों एचडीएफसी इलेक्ट्रॉनिक शॉपिंग पर काफी ज्यादा प्रदान करता है। कभी-कभी तो 1500 से 2000 तक का ऑफर भी मोबाइल एवं अन्य इलेक्ट्रॉनिक चीजों पर दे देता है। इसका बस यह फायदा होता है।

कि आपको थोड़ा सा कंप्रोमाइज करना होता है। इसी वजह से मैंने पर किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं आती है। क्योंकि उस चीज को लेने पर अगर आप लोग ज्यादा पैसा भरेंगे तो आपको फायदा हुआ क्योंकि यह एक प्रकार से लोन होता है। जिसे आप को बैंक के द्वारा लेना पड़ता है। उदाहरण के तौर पर अगर आप लोग ₹10000 का फोन लेते हो तो आपको ₹8000 भरने पड़ेंगे इसके बाद आपको महीने के 15 सो से 2000 तक का एमआईबी भरना होता है।

EMI को कैलकुलेट कैसे करते हैं?

दोस्तों इन सभी चीजों को सीखने के बाद आपके मन में एक सवाल जरूर आया होगा कि आखिरकार ईएमआई को कैलकुलेट कैसे किया जाता है। तो आपको इसी के बारे में भी हम बताने वाले हैं। दोस्तों अगर आप लोग किसी प्रोडक्ट को खरीद रहे हो तो उससे पहले ही उसकी ईएमआई कैलकुलेट करना बेहद आवश्यक होता है। मान लो अगर आप लोग एमआई को केलकुलेटर नहीं कर पाओगे तो फिर आप बजट कैसे एडजस्ट करोगे तो चलिए हम इसके बारे में आपको बताते हैं। हालांकि ईएमआई चेक करने के लिए बहुत सारी वेबसाइट मिल जाती हैं।

और ऑफलाइन आप मोबाइल या फिर किसी भी लैपटॉप में प्रोडक्ट को खरीद रहे हैं। तो वहां पर आपको वह बताएगा कि अगर आप ₹20000 का लोन लेंगे तो इस पर आपको कितना EMI भरना पड़ सकता है. कितना इंटरेस्ट आपको भरना पड़ेगा यह सभी चीजें बताइए आती हैं। मगर आप लोग ऑनलाइन चेकिंग करोगे तो इसके लिए बहुत सारी वेबसाइट उपलब्ध है।जहां पर आप बहुत ही अच्छी प्रकार से कैलकुलेट करके अपने बजट को एडजस्ट कर पाओगे एमआई को कैलकुलेट करते समय कुछ ऐसी चीजें होती हैं। जिनका आपको विशेष ध्यान रखना पड़ता है। जिसकी वजह से आपका बजट सही से एडजस्ट हो कर तैयार हो जाए और कैलकुलेशन करते समय आपसे किसी प्रकार की कोई गलती नहीं हो पाए।

• इसके लिए सबसे पहले आपको इस बात पर विशेष ध्यान देना होगा कि आप कौन सी कंपनियां पर कौन सी बैंक के द्वारा कितने इंटरेस्ट पर लोन ले रहे हैं।

• फिर आपको यह भी देखना है। कि वह बैंक या फिर कंपनी या फिर कोई दुकानदार आपको ईएमआई चुकाने के लिए कितना समय देता है। अर्थात ईएमआई लोन चुकाने के लिए एवं महीने का कितना ब्याज आपसे मांग रहा है।

• इसके बाद आपको यह भी देखना जरूरी है. कि आपने कितना पैसा लोन के अंदर ले लिया है।

दोस्तों इन तीनों चीजों पर आपको ध्यान देना बहुत ही जरूरी होता है। क्योंकि अगर आप लोग इन तीनों चीजों पर ध्यान देते हो तो फिर आपको यह पता चल जाता है। कि आप कितने इंटरेस्ट भर्ती हो या फिर आपने कितनी इंटरेस्ट पर ईएमआई लोन लिया है। और EMI लोन को चुकाने के लिए आपके पास कितना समय होता है। और EMI को कैलकुलेट करने के लिए यह तीनों चीजें एकदम बेस्ट मानी जाती है।

कार या फिर बाइक का EMI कैसे calculate करें?

दोस्तों अब हम आपको एक उदाहरण के रूप में ईएमआई को कैलकुलेट करके बताते हैं। इसके लिए हम बाइक या फिर कार का ईएमआई कैलकुलेट करके आपको दिखाते हैं। जिससे आपको भी पता चल जाएगा ईएमआई का रेट कितने के पर किया जाता है। हम इस उदाहरण को आपको इसलिए बता रहे हैं। क्योंकि यह एक बेहतरीन उदाहरण है। क्योंकि कार का लोन आपको ज्यादा लेना पड़ता है। जब तो बाइक का लोन बहुत कम लेना पड़ता है। इसलिए आपको अब सब सब पता चल जाएगा कि अगर आप लोग ज्यादा लोन लेते हो तो कितने EMI एवं इंटरेस्ट पर भरना पड़ेगा।

यह आप लोगों कम लोन लोगे तो कितने इंटरेस्ट पर भरना पड़ेगा और आपके पास कितना समय रहेगा यह भी आपको पता चलने पाला है। अगर आप इस पोस्ट को आगे तक पढ़ोगे तो फिर आपको और कहीं यह खोजने की जरूरत नहीं पड़ेगी तो दोस्तों सबसे पहले हम बाइक के ईएमआई के बारे में देखेंगे मान लीजिए कि अगर आपने 80000 का बाइक खरीदना चाहते हैं।इसके लिए आपको लोन लेना पड़ेगा और आपको यह लोन 10% पर मिल रहा है। तो आपके पास इसी भरने के लिए 2 साल का समय होता है। तो यहां पर हम लोग सबसे पहले इस ईएमआई कैलकुलेट करेंगे कि आपको प्रत्येक महीने में कितनी किस्त भरनी पड़ेगी और यह आपको पता हुआ कि 1 साल के अंदर 12 महीने होते हैं। तू 2 साल के अंदर 24 महीने हो गए अब आपको 24 महीनों के हिसाब से ₹80000 को डिवाइड करना होता है ( 80,000 ÷ 24)= ₹3333. 3.

तो दोस्तों इस प्रकार आपको यह पता चल जाएगा कि हर महीने की आपको ₹3333 की ईएमआई भरनी पड़ेगी इसी के साथ आपको इसके अंदर इसका इंटरेस्ट भी ऐड करना पड़ता है। तो दोस्तों कुछ इस प्रकार से आप लोग कार का EMI कैलकुलेट करना सीख जाएंगे कि आपको कितने महीने का समय मिल रहा है। और आपको कितना लोन लेना चाहिए।

इन सभी चीजों को ध्यान में रखकर आपको डिवाइड करना पड़ेगा उसके बाद आप लोग 1 साल से डिवाइड करके उसके बाद आपको कितना ईएमआई भरना पड़ेगा यह सब कैलकुलेट करने में काफी सरल एवं आसान बन जाता है। और आपको यह पता भी चल जाएगा कि आपको कार की हर 1 महीने की कितनी किस्त करनी पड़ेगी।

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों अब आपको यहां पर यह पता चल गया होगा कि EMI की फुल फॉर्म क्या होती है? और इसे कैलकुलेट कैसे करते हैं? हमें उम्मीद है कि आपको हमारे द्वारा बताई गई यह रोचक जानकारी बेहद पसंद आई होगी अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो आप इसे अपने सभी दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें धन्यवाद।

Leave a Comment