GPS क्या होता है? और यह किस प्रकार काम करता है? 2022

GPS क्या होता है? और यह किस प्रकार काम करता है? 2022

हेलो दोस्तों आज की इस एक और न्यू इंटरेस्टिंग पोस्ट के अंदर आपका बहुत-बहुत स्वागत है। दोस्तों आप लोगों में से बहुत से लोगों ने कभी ना कभी तो GPS का नाम तो सुना ही होगा। और आप लोगों के मन में एक सवाल आता भी होगा कि आखिरकार जीपीएस क्या होता है? और यह किस प्रकार काम करता है? अगर आप लोग भी इन सभी सवालों के जवाब जानना चाहते हैं। तो हमारी आज की पोस्ट को शुरू से लेकर एंड तक जरूर पढ़ लेना क्योंकि आज की पोस्ट के अंदर हम आपको GPS के बारे में संपूर्ण जानकारी स्टेप बाय स्टेप तरीके से बताने जा रहे हैं। आपको जानकर हैरानी होगी मगर ज्यादातर लोग जीपीएस का उपयोग रोजाना करते हैं।

दोस्तों अगर आप लोग एक स्मार्टफोन यूजर हैं। तो फिर आप लोग गूगल मैप्स तो जरूर चलाते होंगे तो हम आपको यहां पर बता दें कि लोकेशन की परमिशन देने के लिए हम GPS को चालू करते हैं। मगर बहुत से लोगों को यह भी पता होता है। कि यह काम कैसे करता है? इसलिए आपकी इसी परेशानी को दूर करने के लिए हमने यह पोस्ट आपके लिए खोज निकाली है। अगर आपको ऐतराज ना हो तो हम आपके कीमती समय में से थोड़ा समय मांगेंगे जिसके द्वारा आप लोगों को यह जानकारी प्रदान कर पाएंगे तो चलिए दोस्तों आज की इनफॉर्मेटिव एंड इंटरेस्टिंग पोस्ट को शुरू करते हैं।

जानिए GPS क्या है? पूरी परिभाषा

दोस्तों सबसे पहले हम आपको यहां पर बता दें कि GPS का पूरा नाम यानी की फुल फॉर्म ” Global positioning system ” होती है दोस्तों आप मैसेज शायद ऐसे बहुत ही कम लोग होंगे। जिन्हें पहले से पता होगा कि जीपीएस की फुल फॉर्म ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम होती है। आपको बता दें कि जीपीएस सिस्टम के द्वारा किसी भी चीज की लोकेशन का पता आसानी से लगा सकते हैं। और जीपीएस का जगह पर इस्तेमाल कंप्यूटर एवं मोबाइल के अंदर किया जाता है। GPS यह किस प्रकार की टेक्नोलॉजी है। जिसका उपयोग करके हम कहीं भी और किसी भी चीज की लोकेशन को आसानी से ट्रैक कर सकते हैं। और दोस्तों यह सिस्टम ग्लोबल सैटलाइट नेवीगेशन सिस्टम टेक्नोलॉजी के आधार पर काम करता है। जीपीएस एक ऐसा तरीका है। जिसके द्वारा हम बहुत सारे काम अपने घर पर बैठकर ही कर सकते हैं।

आपने देखा होगा कि हम अपनी रियल लाइफ में जो स्मार्टफोन एवं कंप्यूटर इस्तेमाल करते हैं। तो उन सब में जीपीएस का एक बहुत ही मेन रोल होता है। हम आपको एग्जांपल के तौर पर बताएं जैसे कि आप लोग अपने स्मार्टफोन के अंदर निम्न सोशल मीडिया ऐप जैसे कि फेसबुक एवं व्हाट्सएप तथा इंस्टाग्राम आप सभी के लिए जीपीएस का उपयोग होता है। अब आप लोगों के मन में एक सवाल और आया होगा कि आखिरकार यह कैसे हो सकता है? तो आपको बता दें जैसे आप लोग फेसबुक के अंदर किसी को खोज रहे हो तू ऐसे समय में आप लोग उनकी लोकेशन मतलब कि उनकी सिटी के मुताबिक उनके नाम को खोज सकते हो इसलिए यहां जीपीएस का उपयोग होता है।

 

GPS काम कैसे करता है?

दोस्तों अब तक आप लोगों ने जाना कि जीपीएस क्या है? और अब हम आपको यह बताने वाले हैं। कि आखिर का जीपीएस के काम करने का तरीका क्या है? दोस्तों जीपीएस काफी सारी एडवांस टेक्नोलॉजी का उपयोग करता है। लेकिन इसका मतलब बहुत ही सिंपल एवं सरल होता है। इसमें एक जीपीएस रिसीवर होता है। जो के हर एक GPS satellite के द्वारा सिग्नल को प्राप्त करता रहता है। इसके बाद इसी उपयोग करने वाले डिवाइस के पास इसे पहुंचा देता है। आपको बता दें सेटेलाइट के द्वारा मैसेज का आदान प्रदान किया जाता है। और इन सिगनल्स को आपस में कनेक्ट करने के लिए जीपीएस डिवाइस का उपयोग करते हैं।

साथियों स्मार्टफोन में मौजूद इस सुविधा के आधार पर यूजर अपनी लोकेशन को आराम से ट्रैक कर सकते हैं। और दोस्तों GPS डिवाइस satellite के द्वारा आने वाले सिग्नल के माध्यम से उस लोकेशन को मैप के अंदर दिखाता है। इतना ही नहीं दोस्तों आप लोग इसके द्वारा किसी भी जगह पर बैठकर अपने वाहन की स्थिति के बारे में भी जान सकते हो GPS को तीन क्षेत्रों से मिलकर बनाया गया है। Space segment, control segment और user segment आदि। दोस्तों जीपीएस डायरेक्ट सेटेलाइट से कनेक्ट होता है। जिसकी वजह से हमें किसी भी जगह की लोकेशन आराम से पता चल जाती है।

GPS का इस्तेमाल कहां कहां होता है?

दोस्तों जीपीएस का इस्तेमाल काफी सारी जगह पर करते हैं। वैसे तो इसका इस्तेमाल हर एक व्यक्ति हर एक की स्थान पर कर सकता है। मगर हम आपको कुछ स्पेशल मुकेश जी ओ के बारे में बताने जा रहे हैं। जिनके लिए इसका इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है।

लोकेशन

दोस्तों चाहे कोई मोबाइल हो या फिर कोई डिवाइस हो उसकी लोकेशन को ट्रैक करने के लिए जीपीएस का उपयोग किया जाता है। मगर इसके लिए यह चीज बहुत ही ज्यादा मायने रखती है। कि उसे वाले आकर डिवाइस के अंदर जीपीएस का होना बहुत ही ज्यादा जरूरी होता है। इसके बाद ही हमें उस लोकेशन के बारे में पता लग सकता है।

नेविगेशन और मैपिंग

दोस्तों चाहे कोई डिवाइस हो उस तक पहुंचने के लिए नेविगेशन एवं मैपिंग का उपयोग जमकर किया जाता है। मान लो हम किसी नई जगह पर जाते हैं। और हमें वहां पर जिस जगह पर जाना होता है। उसका नाम पता नहीं लगा पाते हैं। तो इसके लिए हम तो क्या सभी सभी लोग ही गूगल मैप्स का इस्तेमाल करते हैं। जिसके द्वारा उस जगह तक नेविगेशन की सहायता से पहुंचा जा सकता है।

पोस्ट के बारे में ?

दोस्तों अब आपको यह पता चल गया होगा कि आखिरकार जीपीएस क्या होता है? और इसका इस्तेमाल कैसे करें एवं कौन-कौन सी जगह पर इसका उपयोग किया जाता है? सब कुछ हमने आपको आज की इस पोस्ट के अंदर बता दिया है। हमें उम्मीद है कि आप को इस पोस्ट के अलावा जीपीएस की जानकारी के लिए दूसरी पोस्ट को नहीं पढ़ना पड़ेगा अगर आपको हमारी यह इंटरेस्ट में जानकारी पसंद आई हो तो आप वैसे आगे तक शेयर कर सकते हैं। पोस्ट को शुरू से लेकर एंड तक ध्यान पूर्वक पढ़ने के लिए आपका तहे दिल से धन्यवाद।

Leave a Comment