Payment gateway क्या होता है ? पूर्ण जानकारी 2022

Payment gateway क्या होता है ? पूर्ण जानकारी 2022

दोस्तों एक बार फिर से हाजिर हैं। हम आपके सामने एक और नए फ्रेश आर्टिकल के साथ जिसमें हम पेमेंट गेटवे के बारे में जानने वाले हैं। जी हां साथियों आज की पोस्ट के अंदर हम आपको पेमेंट गेटवे के बारे में संपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं। साथियों आप लोगों ने पहले कभी ना कभी तो इसके बारे में सुना होगा और आपने इसके बारे में जानने की भी कोशिश की होगी मगर आप नाकाम रहे होंगे अगर आपने पेमेंट गेटवे के बारे में अच्छे से नहीं समझ पाया है। तो आप हमारी इस पोस्ट को शुरू से लेकर एंड तक पढ़ सकते हो क्योंकि हमने इस पोस्ट में पेमेंट गेटवे के बारे में संपूर्ण जानकारी स्टेप बाय स्टेप दी है।

payment gateway क्या है?

दोस्तों पेमेंट गेटवे एक सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन होता है। और इसका इस्तेमाल व्यापारियों के थ्रू अपने कस्टमर से क्रेडिट या फिर डेबिट कार्ड को स्वीकार करने के लिए होता है। साथियों यह एक प्रकार की सर्विस होती है। जो कि कस्टमर के क्रेडिट एवं डेबिट कार्ड को वेबसाइट के कार्ड पेमेंट नेटवर्क को ट्रांसफर कर देती है। और फिर यह प्रोसेस किया जाता है। और फिर पेमेंट की जितनी भी जानकारी होती है। उसे वेबसाइट पर भेज दिया जाता है।

और जब भी आपने किसी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस से पेमेंट किया होगा तो आपको पेमेंट गेटवे की जरूरत पड़ी होगी नहीं तो आप यह समझ सकते हैं। कि पेमेंट गेटवे पेमेंट का लेनदेन करने के लिए एक प्रकार का प्लेटफार्म होता है। जैसे कि आपने कभी ऑनलाइन शॉपिंग करी हुई तो आपने कैश न दिया होगा? बल्कि ऑनलाइन पेमेंट कर दिया होगा तो साथियों पेमेंट करते वक्त एक प्रोसेस होता है। उसको कंप्लीट होने के बाद ही पेमेंट होता है।

पेमेंट गेटवे की आवश्यकता क्यों पड़ती है ?

जब आप लोग मॉल में शॉपिंग करने गए होंगे तो आपने कार्ड से पेमेंट किया हुआ लेकिन जब कभी भी हमारे दिमाग में ऑनलाइन शॉपिंग का ख्याल आता है। तो उसके लिए हमें अपने कार्ड की सभी प्रकार की डिटेल को डालना पड़ता है। यानी कि हम अपने कार्ड को वहां पर फिजिकली प्रजेंट नहीं कर सकते हैं। कहने का मतलब है इससे यह निश्चय नहीं हो पाता है। कि पेमेंट कौन सा व्यक्ति कर रहा है। और आप किसी भी चीज को ऑनलाइन डालते हैं। तो इससे फ्रॉड होने के चांसेस बढ़ते चले आते हैं।

ऐसे में अगर पेमेंट गेटवे की प्रक्रिया को हटा दिया जाता है। तो कस्टमर के साथ फ्रॉड होने के चांस बहुत ज्यादा बढ़ जाएंगे और उनके कार्ड की जितनी भी जानकारी होगी उसे चुराया भी जा सकता है। यदि आप मर्चेंट हैं। और आपने अपनी कोई वेबसाइट बना रखी है। जहां पर कस्टमर को पेमेंट किया जाता है। तो अगर ऐसे में उन कस्टमर के साथ फ्रॉड हो जाता है। तो इससे आपको और आपके कस्टमर दोनों को बहुत ज्यादा नुकसान झेलना पड़ेगा इसी वजह से पेमेंट गेटवे महत्वपूर्ण माना जाता है।

पेमेंट गेटवे के काम करने का तरीका क्या है ?

दोस्तों पेमेंट के प्रशासन में 3 लोग शामिल होते हैं। सबसे पहला है। कस्टमर जो कि शॉपिंग करता है। और दूसरा है मर्चेंट अकाउंट जो के प्रोडक्ट बेचता है। और इसका बैंक अकाउंट भी इसमें शामिल होता है। इसी के साथ यूज़र का बैंक अकाउंट होता है। ऐसे में यदि कोई ग्राहक किसी प्रोडक्ट को सिलेक्ट करके पे की बटन पर क्लिक करता है। और फिर वहां यह निश्चित करता है कि वह कार्ड से पेमेंट कर रहा है। और कार्ड की डिटेल्स डाल देता है। इसके बाद वह सबमिट कर देता है

सबमिट बटन पर क्लिक जैसे ही वह करता है। तो पेमेंट गेटवे उस कार्ड की डिटेल्स को इंक्रिप्ट कर देता है। और सीक्रेट फॉर्म में मर्चेंट के बैंक तक ट्रांसफर कर देता है। मर्चेंट में देंगी के पास ही इंफॉर्मेशन जाने के बाद वह चेक कर लेता है। कि कार्ड वैलिड है या नहीं? और उसके बाद इसके बारे में जानने के लिए कार्ड के नेटवर्क के पास रिक्वेस्ट सेंड करता है। इसके बाद कार्ड नेटवर्क कस्टमर के बैंक के पास में रिक्वेस्ट को सेंड कर देता है। कस्टमर के बैंक से कार्ड नेटवर्क के पास रिस्पांस आ जाता है।

कि यह पेमेंट सक्सेसफुल है या नहीं? इसके बाद कार्ड नेटवर्क मर्चेंट के कार्ड को इस बात का रिस्पांस दे देता है, मर्चेंट के पास फीडबैक ( रेस्पॉन्स) जैसे ही आ जाता है। तो यह पेमेंट गेटवे को सूचित कर देता है। वह कहता है कि यह पेमेंट सक्सेसफुल हुआ है या नहीं? यदि आपका पेमेंट सक्सेसफुल हो जाता है। तो पेमेंट गेटवे मर्चेंट को बता देता है। और तब आप की वेबसाइट पर दिखाई देता है। कि आपका पेमेंट सफल हो चुका है।

👉 whatsapp-beta-kya-hai-2022

पेमेंट गेटवे का काम क्या है?

जैसा कि हमने आपको शुरू में बताया है। पेमेंट गेटवे एक सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन है। और इसका मुख्य काम आपके द्वारा डाले हुए पेमेंट के डाटा को मर्चेंट कर बैंक तक पहुंचाने तक का प्रोसेस इसी का होता है। एवं पेमेंट गेटवे कार्ड को वैलिडेट में मुख्य भूमिका निभाता है। पेमेंट गेटवे के द्वारा जो कम्युनिकेशन होती है। यानी कि मर्चेंट के बैंक तक जो डाटा सेंड किया जाता है। वह इंक्रिप्टेड फॉर्मेट उपस्थित होता है। पेमेंट गेटवे के ग्राहक एवं 1 मर्चेंट के बीचो बीच यह कार्य करता है।

और यह ट्रांजैक्शन को बिल्कुल सेफ एंड सिक्योर तरीके से करने में बहुत ज्यादा सहायता करता है। वैसे तो मार्केट के अंदर बहुत सारी पेमेंट गेटवे कंपनियां उपलब्ध हैं। तो ऐसे में जो नए-नए मर्चेंट आते रहते हैं। उन्हें पेमेंट गेटवे की संपूर्ण इन्फ्राट्रक्चर बनाने की कोई भी आवश्यकता नहीं पड़ती है। वह किसी पेमेंट गेटवे कंपनी से टाइप कर लिया करते हैं। और उनका बिजनेस स्टार्ट हो जाता है।

पेमेंट गेटवे के फायदे

दोस्तों पेमेंट गेटवे के हमें निम्नलिखित फायदे देखने के लिए मिलते हैं। जिनके बारे में हम आपको अभी बताने जा रहे हैं। चलिए इसके फायदे के बारे में भी पता कर लेते हैं।

1. पेमेंट गेटवे के द्वारा आसानी से और जल्दी पेमेंट हो सकता है।
2. आपका कोई भी काम हो उस काम का पेमेंट करने के लिए आप लोग पेमेंट गेटवे का उपयोग कर सकते हैं।
3. आप किसी भी जगह पर कहीं भी पेमेंट गेटवे के उपयोग से पेमेंट कर सकते हैं।
4.और कई प्रकार के पेमेंट को स्वीकार करने की कैप सिटी पेमेंट पोर्टल के द्वारा ही उपलब्ध होती है। जिसकी वजह से अलग-अलग क्रेडिट एवं डेबिट कार्ड को आप अपने पोर्टल पर ला सकते हैं।
5.पेमेंट गेटवे किसी भी बिजनेस के लिए बहुत ज्यादा इंपॉर्टेंट होता है। क्योंकि इसमें पैसे और समय दोनों की बहुत ज्यादा बचत पाई जाती है।
6.पेमेंट गेटवे आपके आपके ग्राहक को फ्रॉड होने से बचा लेता है।

👉 paytm-se-bike-insurance-kaise-khariden-2022

अंतिम शब्द

दोस्तों आज की इस पोस्ट के अंदर हमने आपको पेमेंट गेटवे के बारे में बताया है। हमें आशा है कि आपको इसके बारे में जानकर बहुत खुशी हुई होगी और बहुत कुछ नया सीखने के लिए भी मिला होगा अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ एवं आगे तक भी शेयर कर सकते हैं। पोस्ट को शुरू से लेकर एंड तक ध्यान से पढ़ने के लिए धन्यवाद।

Leave a Comment